रात को नींद ना आने के 6 कारण

हम में से बहुत से ऐसे लोग हैं जो रात को सो नहीं पाते हैं और नींद ना आने के कारण रोते और भटकते रहते हैं। आज हम कुछ ऐसे कारणों के बारे में बात करने जा रहे हैं। जिनकी वजह से नींद नहीं आती है।

चिंता करणे से रात को जल्दी नींद नहीं आती

जिन लोगों को रात में नींद नहीं आती है। उनमें से लगभग 90% लोग जरूरत से ज्यादा चिंता करते हैं। जिस वजह से उन्हें रात में नींद नहीं आती है। यदि चिंता करने वाले लोग रात में अच्छी नींद लेना चाहते हैं। तो इसके लिए उन्हें अपने सभी चिंताओं का निवारण निकालना पड़ेगा। तभी उन्हें रातों में नींद आएगी और वह सो पाएंगे।

जरूरत से ज्यादा चाय कॉफी पीना

जो लोग चाय कॉफी पीने के आदी होते हैं। उन लोगों को भी रात में नींद ना आने की समस्या होती है। इसलिए रात में सोने के एक-दो घंटे पहले चाय या कॉफी का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे नींद नहीं आती है और बेवजह रात को जगना पड़ता है। आप चाहे तो रात में सोने से पहले एक गिलास गर्म दूध पी सकते हैं। इससे आपकी नींद में कोई बाधा नहीं उत्पन्न होगी।

पूरे दिन बेड पर रहकर काम ना करें

हम में से कई लोग ऐसे होते हैं। जो दिन में ज्यादातर बेड का ही इस्तेमाल करते हैं। डाक्टर के अनुसार यदि आप नींद की समस्या से बचना चाहते हैं। तो केवल सोते वक्त ही बिस्तर का प्रयोग करें। अन्य समय में बिस्तर का उपयोग ना करना ही बेहतर है।

समय बार-बार‌ ना देखें

अगर आपको सोने के बाद अपनी घड़ी को बार-बार देखने की आदत है। तो आपको इस आदत से छुटकारा पाने की जरूरत है। सोने के बाद घड़ी नहीं देखनी चाहिए। इससे हमारा ध्यान डायवर्ट होता है। हम सोने पर ध्यान कम देते हैं और अपनी घड़ी पर ध्यान ज्यादा देते हैं। ऐसे में समय तो बीत जाता है। लेकिन नींद आंखों में नहीं आती हैं।

निश्चित मात्रा में काम करें

अगर आप रोजाना एक निश्चित मात्रा में काम करते हैं। तो आपकी नींद की समस्या दूर हो सकती है। अगर आप बिल्कुल भी काम नहीं करते हैं। तो इससे आपके शरीर में नींद की समस्या हो सकती है। दिन भर काम करने से आपका शरीर थक जाएगा और बिस्तर पर जाते ही आपको नींद आ जाएगी।

सोने का टाइम फिक्स करें

सोने का एक विशिष्ट समय निर्धारित करें। जब आप एक निश्चित समय पर रोज हो जाते हैं और एक निश्चित समय पर जागते हैं, तो आपका शरीर एक दिनचर्या में बंध जाता है। आपकी इस आदत के कारण ना ही आपको नींद ज्यादा आने की समस्या होगी और ना ही नींद ना आने की समस्याओं होगी। आप एक पूरी रूटीन में आ जाओगे।

रात को नींद ना आने के कारण

नींद ना आने के पीछे सबका अपना एक अलग कारण होता है। कोई चिंता के कारण सो नहीं पाता है। कोई चाय कॉफी पीने के कारण सो नहीं पाता है। कोई रात- रात भर जग कर मोबाइल या लैपटॉप की रोशनी के सामने बैठकर काम करता है। इस वजह से उसे नींद नहीं आती है। तो कोई रूटीन पर नहीं चलता है। इस वजह से भी नींद नहीं आती है। जिस तरह से सब के कारण अलग है उसी तरह से नींद आने के कारण भी हर एक व्यक्ति के लिए अलग है। 

लेकिन नींद रात में आए यह वजह सबके लिए एक ही है। यही कि रात में सोने जाने से पहले रिलैक्स होकर रहना चाहिए। टीवी या लैपटॉप के रोशनी के सामने नहीं बैठना चाहिए। जितना हो सके किताब पढ़ना या कुछ ऐसे काम करना जो व्यक्ति को पसंद हो वही काम करना चाहिए। जिससे नींद जल्दी आएं और नींद पूरी हो पाएं।

Leave a Comment