क्या आपके परिवार में कोलेस्ट्रॉल का इतिहास रहा है? क्या खाएं क्या ना खाएं

क्या आपके माता-पिता या उनकी पिछली पीढ़ी के किसी व्यक्ति को कोलेस्ट्रॉल की समस्या है या रही है? तो आपको भी यह समस्या हो सकती है। यदि आप कोलेस्ट्रॉल से बचना चाहते हैं। तो भोजन करते समय आपको कुछ नियमों का पालन करना होगा।

क्या आपके परिवार में कोलेस्ट्रॉल का इतिहास रहा है? ऐसी परिस्थिति में फिर क्या खाएं और क्या ना खाएं

बहुत से लोगों को कम उम्र में कोलेस्ट्रॉल की समस्या नहीं होती है। लेकिन उम्र के साथ यह समस्या बढ़ती चली जाती है। अगर किसी परिवार में इस समस्या का इतिहास रहा है, तो अगली पीढ़ी को कोलेस्ट्रॉल होने का खतरा बना रहता है। ऐसे में आपको खान-पान के प्रति सचेत रहना होगा। जानिए क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए।

विटामिन बी12 वाले खाद्य पदार्थ खाएं

ऐसे खाद्य पदार्थ अधिक खाएं जिनमें अच्छे कोलेस्ट्रॉल और विटामिन बी12 की मात्रा अधिक हो। ये गुण आमतौर पर जैतून के तेल, मेवा और विभिन्न नट्स में होते हैं। यह सब खाने से कोलेस्ट्रॉल की समस्या का खतरा कम हो सकता है।

रेड मीट का सेवन ना करें

यदि आप मीट प्रिय व्यक्ति हैं। खासकर रेड मीट ज्यादा पसंद करते हैं। तो फिर जहां तक ​​हो सकें रेड मीट की मात्रा खाना कम कर दें। कारण यह कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को बढ़ा देता है।

ओट्स को नाश्ते में जरूर शामिल करें

सुबह के नाश्ते में ओट्स को जरूर रखें। कारण यह स्नैक शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम भी करता है। आप चाहे तो ओट्स के साथ विभिन्न प्रकार के फलों को मिलाकर भी खा सकते हैं। इससे शरीर को विभिन्न प्रकार के पोषण भी प्राप्त होंगे। यदि आपको प्लेन ओट्स नहीं पसंद है। तो आप मसाला ओट्स भी खा सकते हैं।

लहसुन खाएं

प्रतिदिन दोपहर के भोजन में लहसुन की एक कली का सेवन जरूर करें। डॉक्टर्स का कहना है कि इस लहसुन की वजह से कई लोगों का कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल में रहता है। इसके अलावा लहसुन में और भी कई गुण होते हैं। यह शरीर को स्वस्थ रखने में कई तरह से मदद करता है।

ग्रीन टी का सेवन करें

पॉलीफेनोल्स और फ्लेवोनोल्स कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए अच्छी दवाएं हैं। ग्रीन टी में ये दोनों तत्व ही बड़ी मात्रा में पाए जाते हैं। रोजाना एक कप ग्रीन टी पिएं। इससे कोलेस्ट्रॉल का स्तर बहुत कम हो जाएगा।

स्ट्राबेरी

स्ट्राबेरी अब सर्दियों के अलावा अन्य समय में भी बाजार में मिल जाता हैं। अध्ययनों से यह पता चलता है कि यदि कोई व्यक्ति एक महीने तक एक दिन में एक स्ट्रॉबेरी खाता है, तो उसके कोलेस्ट्रॉल का स्तर काफी कम हो जाता है। अगर आप कोलेस्ट्रॉल से परेशान हैं तो आप इस फल को अपने दैनिक आहार में ज़रूर शामिल कर सकते हैं।

शिमला मिर्च

शिमला मिर्च के सेवन से होने वाले स्वास्थ्य लाभों के बारे में आपको अच्छी जानकारी शायद ना हो। लेकिन, बहुत कम ही लोग जानते हैं कि उच्च कोलेस्ट्रॉल स्तर वाले व्यक्तियों के लिए भी शिमला मिर्च का सेवन अत्यधिक सहायक और लाभकारी होता है! शिमला मिर्च शरीर के मेटाबॉलिज्म रेट को तेज करती है, जिससे शरीर में जमा फैट बर्न होता है। शिमला मिर्च भूख को भी कम करता है, जो वसा के निर्माण को रोकता है। शिमला मिर्च में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट मुक्त कणों को मारते हैं और शरीर में स्वाभाविक रूप से स्वस्थ कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाते हैं।

Leave a Comment