6 महीने पहले गर्भनिरोधक गोली खाई थी। तब से अनियमित मासिकधर्म की समस्या है।

0
38

मेरी पढ़ाई चल रही है। एम बी ए कर रही हु। गर्भनिरोधक गोली खाने से अनियमित मासिकधर्म की समस्या है।

मुझे हरदिन 40 KM स्कूटी से travelling करना पड़ता है। होटल में खाना मुझे अच्छा लगता है।

6 महिना पहले मैंने गर्भनिरोधक गोली खाई थी। तब से अनियमित मासिकधर्म की समस्या से परेशान हु।

मुझे लगा, की 2-3 महीने में सबकुछ ठीक हो जाएगा। मगर अबतक कोई फ़र्क नहीं पड़ा। और माहवारी

के दौरान होनेवाला दर्द भी दोगुना बढ़ गया है।एक महीने में 15 दिन में ही आती है,तो दूसरे महीने में

50 दिन भी लगते है। मै बहुत परेशान हु। कोई घरेलू इलाज होगा तो बताइए।

ये भी पढे गुटखा खाकर मुझे चूमते है, तब मुझे बहुत गुस्सा आता है। क्या करू ? – (gharelunuske.com)

इनको आपके सलाह की जरूरत है।

दोस्तों, शायद हमसे बढ़कर कोई सलाह आप दे सकते हो। तो आपके सलाह की इनको जरूरत है। comment में आप भी इनको मार्गदर्शन करें। हो सकता है, की आपकी एक सलाह इनकी जिंदगी में बहार लाए।

माताए बहनोंको मासिक धर्म से सबन्धित समस्याएँ होना आम बात है| अक्सर माहवारी में अनियमिता

हो जाती है| कई बार रक्तस्त्राव बहुत अधिक हो जाता है और कई बार बहुत कम हो जाता है|

कभी कभी यह ३-४ दिन के जगह लेकिन १ ही दिन होता है। और कई बार तो यह १५ दिन

में ही दुबारा आ जाता है| और कई बार २-३ या ४ महीने तक भी नहीं आता| और इस दौरान

होनेवाले दर्द की और ही कई सारी समस्याए है| और ऐसी कई सारी समस्याए मासिक धर्म के दौरान हो जाती है|

मासिक धर्म चक्र की अनियमिता से सम्बंधित जितनी भी समस्याएँ है, इसका आयुर्वेद मे

बहुत ही अच्छा उपचार है वो है अशोक का पेड़

अनियमित मासिकधर्म का आयुर्वेदिक इलाज(ayurvedic home remedies for irregular periods)


विधि १:

अशोक के ताजे ५-६ पत्तों को एक-डेढ़ गिलास पानी में उबाले| इसे तब तक उबाले जब तक पानी आधा

से पौन गिलास नहीं रह जाता|

इस पानी को एकदम ठंडा होने दे और बिना छाने हुए ही पी ले|

कैसे सेवन करे:

  • सुबह खाली पेट पी लीजिये| इसे लगातार ३० दिन तक पीनेसे मासिक धर्म से जुडी
  • सभी तरह की बीमारियाँ ठीक होती हैं|
  • यह सबसे अधिक बहुत ही लाभकारक दवा है| और इसका कोई दुष्परिणाम भी नहीं है|
  • अगर किसीको ३० दिन तक लेने से थोड़ा ही फायदा पहुंचता है, तो वो और 30 दिन तक ले ले।
  • पर मात्रा ३० दिन लेने से ही मासिक धर्म से जुडी बीमारियाँ ठीक हो जाती है|

विधि २:

अशोक के पेड़ के ५-६ ताजे पत्ते ले| इसकी चटनी बनाकर खा ले|


महत्वपूर्ण सुचना: अनियमित मासिकधर्म की समस्या

आशोक का पेड़ दो तरह का है|

  1. एक पेड़ बिलकुल सीधा, लम्बा होता है| ज़्यादातर लोग इसे ही अशोक समझते है|
  2. पर वह असली अशोक का पेड़ नहीं है|
  3. दूसरा पेड़ पूरा गोल होता और फैला हुआ होता है| वही असली अशोक का पेड़ है|
  4. इसी असली अशोक पेड़ की छाया मे माता सीता ठहरी थी|

आपको इस असली अशोक के पेड़ की पत्तिया लेनी है|

इसके अतिरिक्त आप जंक फूड ना खाए या कम से कम खाए|

नियमित योगाभ्यास करे और अपने खानपान पर भी ध्यान दे|

ये भी पढे पतिको मिर्गीकी बीमारी है । पहले मुझे पता नहीं था । Insurance Agent शुभांगी – (myjivansathi.com)


आशा है आपको “अनियमित मासिकधर्म का आयुर्वेदिक इलाज यह जानकारी पसंद आई होगी|

निवेदन: इस पोस्ट को अपने सोशल मीडिया पर जरुर शेअर करे ताकि दूसरों को भी इसका फायदा हो सके| शायद कोई महंगी फीस की वजह से इलाज ना करा पा रहा हो और इस तकलीफ से जूझ रहा हो| तो यह जानकारी उसे बहुत काम आ जायेगी और वह आपका एहसान जरुर मानेगा|